शब्दावली






A1Cजांच
यह एक रक्त जांच है जो पिछले 120 दिनों में आपके कुल ब्लड ग्लूकोस का औसत बताती है।

अघुलनशील फ़ाइबर
एक स्पंज की तरह काम करता है। जब भोजन आंतों से होकर गुजरता है तो यह पानी को सोखता है जिससे मल को बाहर निकलने में मदद मिलती है और कब्ज से छुटकारा मिलता है। गेहूं के छिलके और चोकरयुक्त अनाजों में बहुत सारा अघुलनशील फ़ाइबर होता है और यही बात बहुत सारी सब्जियों और फलों के छिलकों पर भी लागू होती है। बीज भी अघुलनशील फ़ाइबर के बहुत अच्छे स्रोत हैं। किसी खाद्य पदार्थ को मिल में पीसकर, छिलका उतारकर, उबालकर अथवा निचोड़ कर जितना अधिक संसाधित किया जाता है, उसमें उतनी ही कम मात्रा में फ़ाइबर होता है। अघुलनशील फ़ाइबर प्राप्त करने के लिए, अधिक मात्रा में बिना संसाधित किए हुए खाद्य पदार्थ खाएं।

इंसुलिन
इंसुलिन एक हार्मोन है जिसे रक्त में ग्लूकोस की मात्रा को नियंत्रित करने के लिए अग्न्याशय (पैंक्रीअस) द्वारा बनाया जाता है। जिन लोगों को डायबीटीज़ होती है, उनमें अग्न्याशय पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन नहीं बनाता अथवा जितना इंसुलिन वह बनाता है उसका उपयोग शरीर सही तरीके से नहीं कर पाता। परिणामस्वरूप, रक्तप्रवाह में ग्लूकोस जमा हो जाता है।

एरोबिक व्यायाम
एक कसरत जो आपकी हृदयगति को तेज करती है और जिसमें आपको ज्यादा तेजी से सांस लेनी पड़ती है।

कार्बोहाइड्रेट
कार्बोहाइड्रेट उन तीन मुख्य पोषक तत्वों में से एक है जो भोजन में पाए जाते हैं। स्टार्चों, फ़लों, दूध के उत्पादों और कुछ सब्जियों में कार्बोहाइड्रेट होते हैं। आपके शरीर को ऊर्जा के लिए कार्बोहाइड्रेट की आवश्यकता होती है। आपका शरीर इन्हें चीनी या शुगर में बदल देता है जिसे ग्लूकोस कहते हैं।

कोलेस्ट्रोल
कोलेस्ट्रोल एक पदार्थ है जो आपके रक्त और कोशिकाओं में प्राकृतिक रूप से मौजूद रहता है। कोलेस्ट्रोल के दो मुख्य प्रकार हैं जो LDL और HDL हैं।

LDL(लो-डेन्सिटी लिपोप्रोटीनद्) को प्रायः “खराब” कोलेस्ट्रोल कहा जाता है क्योंकि LDL की अधिक मात्रा से दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है।

HDL (हाई-डेन्सिटी लिपोप्रोटीन) को प्रायः “अच्छा” कोलेस्ट्रोल कहा जाता है क्योंकि HDL की अधिक मात्रा से दिल की बीमारियों का खतरा कम हो सकता है।

ग्लूकोस
ग्लूकोस से मिलकर कार्बोहाइड्रेट बनते हैं और कार्बोहाइड्रेट भोजन में पाए जाने वाले तीन मुख्य पोषक तत्वों में से एक है। पाचन के द्वारा, कार्बोहाइड्रेट वाले भोजन तोड़कर ग्लूकोस में बदल दिए जाते हैं। शरीर की कोशिकाओं द्वारा ऊर्जा के जिन रूपों का उपयोग किया जाता है उनमें से ग्लूकोस मुख्य है।

घुलनशील फ़ाइबर
जैसे-जैसे पाचन तंत्र में से गुजरते हैं, वे टूटते जाते हैं और फिर एक जैल या गाढ़ा तरल बना देते हैं। यह जैल उच्च कोलेस्टरोल से जुड़े कुछ पदार्थों को श्पकड़श् लेता है। घुलनशील फ़ाइबर रक्तप्रवाह द्वारा सोखे जाने वाले कोलेस्टरोल की मात्रा को कम करके हृदयरोगों के ख़तरे को घटा सकते हैं। घुलनशील फ़ाइबर में पेक्टिन शामिल है जिसका उपयोग जैली और ग्वार गम जैसी गम को बनाने में किया जाता है। यह जई, मटर, बीन, मसूर, कुछ बीजों, ब्राउन राइस, जौ, जई, फलों (जैसे सेब), कुछ हरी सब्जियों (जैसे ब्रॉकली), और आलू में पाया जाता है।

ट्रांस फैट
जब किसी तरल वनस्पति तेल को वसा के ठोस रूप में बदला जाता है तो उसे ट्रांस फैट कहते हैं। प्रायः ट्रांस फैट का उपयोग संसाधित खाद्यों में किया जाता है क्योंकि यह स्वाद और बनावट को बेहतर कर सकती है और भोजन को ताजा रख सकती है। ऐसा पाया गया है कि इससे हृदयरोग का ख़तरा बढ़ जाता है।

ट्राइग्लिसराइड्स
ट्राइग्लिसराइड्स आपके रक्त में मौजूद वसा का एक प्रकार है जो चीनी, एल्कोहल और कुछ खाद्यों से बनता है। जब रक्त में इनकी मात्रा बहुत अधिक हो जाती है तो ट्राइग्लिसराइड्स के कारण रक्त की नलिकाएं सख्त और संकरी हो सकती हैं। जब आपको हाई ब्लड प्रेशर अथवा डायबीटीज़ होती है तो आपमें ट्राइग्सिराइड्स की मात्रा अधिक होने का ख़तरा भी बढ़ जाता है। इसके कारण आपको दिल की बीमारी होने का ख़तरा भी बढ़ सकता है।

तीव्र या विगरस एरोबिक व्यायाम
तीव्र या विगरस एरोबिक व्यायाम आपके दिल की धड़कन दर को काफी बढ़ा देता है। आप एक सांस में चंद शब्दों से अधिक नहीं बोल सकेंगे। इसके उदाहरण हैं दौड़ना, बास्केटबॉल, फुटबॉल खेलना औरक्रॉस-कंट्री स्कीइंग।

पाचन ग्रन्थि या पैंक्रीअस या अग्न्याशय
पाचन ग्रन्थि या पैंक्रीअस या अग्न्याशय पाचन तंत्र का एक अंग है। यह भोजन के विघटन के लिए एनज़ाइम बनाती है। यह इंसुलिन को भी बनाती है। इंसुलिन, यानी वह हार्मोन जो रक्त में ग्लूकोस की मात्रा को नियंत्रित करता है। जिन लोगों को डायबीटीज़ होती है, उनमें पाचन ग्रन्थि या तो कोई इंसुलिन नहीं बनाती या फिर बनाए गए इंसुलिन का प्रभावी उपयोग नहीं कर पाता।

प्रतिरोध व्यायाम
इस व्यायाम या कसरत से मांसपेशियां मज़बूत होती हैं। इसके उदाहरण हैं- भार उठाना, दंड बैठक, और पुश अप।

फ़ाइबर या रेशे
फ़ाइबर एक प्रकार का कार्बोहाइड्रेट है जिसे शरीर पचा नहीं पाता। फ़ाइबर दो तरह के होते हैं: अघुलनशील और घुलनशील फ़ाइबर।

मध्यम या मॉडरेट एरोबिक व्यायाम
मध्यम या मॉडरेट एरोबिक व्यायाम आपकी सांस लेने की गति तथा दिल की धड़कन दर को बढ़ाता है। आपको इस लायक होना चाहिए कि आप बात कर सकें लेकिन गाना न गा सकें। इसके उदाहरण हैं तेज चलना, स्केटिंग और साइकिल चलाना।

रक्त ग्लूकोसः
रक्त ग्लूकोस का अर्थ रक्त में मौजूद ग्लूकोस (शर्करा) की मात्रा से है

रक्त लिपिड
रक्त लिपिड, रक्त में मौजूद लिपिड (चर्बी या वसा) हैं। रक्त लिपिड के उदाहरण हैं फैटी एसिड और कोलेस्टरोल।

रक्तचाप
रक्तचाप उस बल की माप है जो रक्त नलिकाओं की दीवारों पर आपका रक्त डालता है। डायबीटीज़ वाले लोगों के लिए इसका लक्ष्य 130/80mm Hg से कम होता है। इस लक्ष्य में ऊपर की संख्या (130) उस समय का दबाव है जिस समय आपका दिल सिकुड़कर रक्त को बाहर धकेलता है (इसे सिस्टोलिक प्रेशर कहते हैं)। नीचे वाली संख्या (80) उस समय का दबाव बताती है जिस समय आपका दिल धड़कनों के बीच आराम करता है (इसे डायस्टोलिक प्रेशर कहते हैं)।

शर्करा अल्कोहल
शर्करा अल्कोहल या शुगर अल्कोहल एक प्रकार का कार्बोहाइड्रेट है जिसकी रासायनिक संरचना शर्करा और अल्कोहल दोनों से मिलती है। आम शर्करा अल्कोहल हैं सोर्बिटॉल, लेसिटॉल और जाइलिटॉल। हमारा शरीर शर्करा अल्कोहल को अच्छी तरह अवशोषित या उपयोग नहीं कर पाता, अतः इसका अधिक भाग कार्बोहाइड्रेट में नहीं बदल पाता। प्रतिदिन 10 ग्राम तक शर्करा अल्कोहल को सुरक्षित माना जाता है।

संतृप्त वसा
अधिकांश संतृप्त वसा सामान्य तापमान पर ठोस अवस्था में होती हैं, जैसे कि मक्खन और चिकन की खाल।